किसान क्रेडिट कार्ड (Kisan Credit Card) योजना में होंगे 25 लाख Kisan कवर

Kisan Credit Card (KCC) में कैसे मिलते हैं Loan

किसान क्रेडिट कार्ड (Kisan Credit Card) योजना को विस्तार देने के लिए झारखंड सरकार (Jharkhand Government)  ने घोषणा की है कि  मार्च 2023 तक 25 लाख से अधिक किसानों को किसान क्रेडिट कार्ड के तहत कवर करेगी।

झारखंड सरकार ने किसानों की मदद के लिए हालांकि कई तरह की योजनाएं शुरू की हुई हैं, परंतु सरकार किसान क्रेडिट कार्ड (Kisan Credit Card) को प्रमुखता से बढ़ावा देने का मन बना चुकी है।

ये भी पढ़ें : Mukhyamantri Pashudhan Vikas Yojana से महिलाओं को मिलेगी 90% सब्सिडी 

Kisan Credit Card योजना क्या है?

 किसान क्रेडिट कार्ड (Kisan Credit Card) योजना में दरअसल किसानों को लोन दिया जाता है। किसानों को अक्सर खेती करने एवं परिवार की जरूरियात पूरा करने के लिए पैसे की जरूरत पड़ती है। ऐसे में किसान क्रेडिट कार्ड योजना से किसानों कम ब्याज दर पर खेती का लोन मिल सकता है। इसी लोन को किसान क्रेडिट कार्ड कहा जाता है और बोलचाल की भाषा में ग्रीन कार्ड भी कहा जाता है।

Kisan Credit Card पर Loan कैसे मिलेगा?

केंद्र सरकार ने किसान क्रेडिट कार्ड (Kisan Credit Card) योजना मुख्य तौर पर किसानों के लिए बनाई है। किसान साथी पूछते रहते हैं कि KCC loan क्या है। दरअसल यह किसान क्रेडिट कार्ड पर मिलने वाला loan कम समय के लिए दिया जाता है। यह एक तरह का कृषि ऋण है।

Kisan Credit Card का मूल उद्देश्य

किसान क्रेडिट कार्ड (Kisan Credit Card) का मुख्य उद्देश्य यही है कि किसानों को साल भर के खर्च के लिए लोन दिया जाए। जिसका उपयोग किसान फसल बुआई, कटाई, दवाई, खाद, बीज व प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना आदि में कर सकता है। दूसरी तरफ यह लोन योजना किसानों को साहूकारों की गिरफ्त से बचाती है।

किसान क्रेडिट कार्ड (Kisan Credit Card) के लिए दस्तावेज

जिन किसानों के पास अपनी खेती की भूमि है, उन्हें यह लोन मिलता है। इसके लिए खतौनी (जमीन का रिकॉर्ड) खसरा, हिस्सा प्रमाणपत्र, पहचान पत्र, शपथपत्र, किसी भी बैंक का पहले बकाया नहीं होना चाहिए (इसका प्रमाण पत्र)

ये भी पढ़ें : पिछले वर्ष की इसी अवधि के दौरान 60 लाख मीट्रिक टन के मुकाबले…

किसान क्रेडिट कार्ड किस बैंक में बनेगा

किसान क्रेडिट कार्ड (Kisan Credit Card) सरकार के आदेशानुसार किसी सरकारी एवं ग्रामीण बैंक के माध्यम से बनवाया जा सकता है। यह कार्ड ऑनालाइन भी बनवाया जा सकता है। यह योजना 1998 में आरंभ ही थी।

किसान क्रेडिट कार्ड और झारखंड सरकार

झारखंड सरकार ने बुधवार यानि 28 सितंबर, 2022 को घोषणा की है कि किसान क्रेडिट कार्ड (Kisan Credit Card) योजना मार्च 2023 तक कुल 25,00,000 किसानों को कवर करेगी। जिसमें अभी तक 19.50 लाख से अधिक केसीसी (KCC) को पहले ही मंजूरी मिल चुकी है।

किसान क्रेडिट कार्ड में होंगे 900 करोड़ के ऋण स्वीकृत

किसान क्रेडिट कार्ड  के लिए राज्य प्रशासन ने कहा है कि दिसंबर 2019 में झामुमो के नेतृत्व वाले शासन के सत्ता में आने के बाद से, इस योजना के तहत कुल 900 करोड़ रुपये से अधिक के ऋण स्वीकृत किए जा चुके हैं।

किसान क्रेडिट कार्ड (Kisan Credit Card) 25 लाख किसानों को कवर करने का लक्ष्य

किसान क्रेडिट कार्ड (Kisan Credit Card) के तहत 15 नवंबर 2000 को झारखंड के गठन के बाद से केवल 409 करोड़ रुपये का भुगतान किया गया है। जबकि अब एक सरकारी घोषणा के अनुसार, “मार्च 2023 तक 25 लाख किसानों को केसीसी के साथ कवर करने का लक्ष्य रखा गया है।” हालांकि 15 सितंबर, 2022 तक किसान क्रेडिट कार्ड योजना में 19.18 लाख केसीसी (KCC) धारक ही थे।

किसान क्रेडिट कार्ड कितने % मिलेगी ब्याज सब्सिडी

किसान क्रेडिट कार्ड (Kisan Credit Card)  योजना में समय पर अपना अग्रिम भुगतान करने वाले किसानों को किसान क्रेडिट कार्ड ऋण पर 3% ब्याज सब्सिडी दी जाएगी, जिसमें उन्हें 7% की ब्याज दर मिलेगी। यह कहा जा रहा है कि “झारखंड के किसानों की आर्थिक स्थिति को ध्यान में रखते हुए, राज्य सरकार उन्हें अतिरिक्त 3% ब्याज सबवेंशन के साथ मदद कर रही है।

Leave a Comment